जानिये – 500, 1000 नोट बैन के क्या है फायदे और क्या है नुकसान

0

आजकल हर जगह एक ही खबर है , 500 और 1000 के नोट बैन होने की खबर | ये बात सही है की आम आदमी इस से काफी हद तक परेशान है , लेकिन कुछ पोलिटिकल पार्टीज इस बात को राजनीती का विषय बनाकर इसका गलत फायदा उठा रही है, जो की गलत है | काले धन पर अंकुश लगाने के लिए ये निर्णय लेना बहुत ही जरुरी था , लेकिन लोगो को इस निर्णय से परेशानी नहीं है बल्कि लोगो का कहना है की ये जल्दबाज़ी में लिया गया निर्णय है |

            आपको जानकर हैरानी होगी की इंडिया टीवी द्वारा किये गए एक सर्वे के अनुसार 79% लोगो का कहना है की ये अच्छा निर्णय है और कुछ दिन की परेशानी झेल लेंगे, 19% लोगो का ये कहना है की निर्णय तो अच्छा है लेकिन उन्हें काफी परेशानी का सामना करना पड रहा है और बस 2% लोग ही ऐसे है जो इसे बुरा फैसला मानते है | आपको बता दे की कर्नाटक , उत्तरप्रदेश ,प.बंगाल ,केरल जैसे राज्यों में तो 80% लोगो इसे सही फैसला बता रहे है और उनका कहना है की कुछ दिन की परेशानी झेल लेंगे लेकिन आने वाला भविष्य उज्जवल है | आपको एक बात जानकार और हैरानी होगी की ये सभी राज्य गैर भाजपा शाशित राज्य है |

            पहली बार देश के किसी प्रधान मंत्री ने कोई सही फैसला लिया है तो सारी विपक्षी पार्टिया मिल के इसका विरोध करने में लगी है | इस देश का नागरिक होने के नाते हम सबका फ़र्ज़ बनता है की प्रधानमंत्री के इस फैसले को सपोर्ट करे और एक अच्छा देश बनाने में अपना योगदान दे | अरविन्द केजरीवाल और ममता बनर्जी तो मिलके दिल्ली में प्रदर्शन करने लगे | वो ये जाता रहे थे की हम लोगो की मदद करना चाहते थे जबकि उन्हें वहा से मोदी मोदी के नारे सुनने को मिले और लोगो का कहना था की सही से लाइन चल रही थी और इन्होने आकर सारा काम गड़बड़ कर दिया |

mamata-kejriwal1

इस फैसले से जहा आम आदमी को कई मुश्किलों का सामना करना पड रहा है इस फैसले के कई बड़े फायदे है | इस फैसले के जो भी नुकसान है वो सीमित अवधि (Short term) के लिए है लेकिन जो फायदे अभी हो रहे है या आने वाले टाइम में होंगे उनसे देश को काफी फायदा है |आइये जानते है ऐसे ही कुछ फायदे और नुकसान जो की इस फैसले से देश को हो रहे है या आने वाले समय में होने वाले है |

फायदे

  • इस फैसले का पहला फायदा हमारे देश की सेना को हो रहा है | कश्मीर में अभी सामान्य स्तिथि है और आतंकी जो जाली नोटों का इस्तेमाल करके आतंक फैलाते थे वो कंगाल हो चुके है और इस से पाकिस्तान बौखला उठा है | आतंकी कश्मीरी युवाओ को 500 और 1000 के नोट देकर सेना पर पत्थरबाज़ी करवाते थे वो अब बंद हो चुकी है और करीब 4 महीने बाद कश्मीर में फिर से स्कूल शुरू हो पाए है |
  • दूसरा सबसे बड़ा झटका नक्सलियों को लगा है जिन्होंने नोटों के बण्डल ज़मीन में गाड के छुपा रखे थे वो अब कागज़ बन चुके है |
  • तीसरा फायदा जो नोट बंद करने का मुख्य उद्देश्य था , कालाबाजारी को बंद करना | अब या तो लोग जुर्माना भर के पैसे बैंक्स में ज़मा करा रहे है या उनके नोट कागज़ का ढेर बन चुके है जो की समाज में समानता लाने में बहुत उपयोगी है और आने वाले पैसे से देश को आगे बढ़ने में काफी मदद मिलेगी |
  • नोटों की कमी के कारण शहरो के साथ अब कई छोटे गाँवों में भी छोटे मोटे व्यापारी और चाय वाले पेटीएम से या कार्ड स्वाइप करने वाली मशीन का उपयोग करके पेमेंट कर रहे है जो की देश के आगे बढ़ने का एक संकेत है | इससे गाँव स्मार्ट होंगे और लोग जागरूक होंगे , साथ ही साथ काले धन पर अंकुश लगेगा |
  • एक और सबसे बड़ा फायदा ये है की जो पुराने जाली नोट बाज़ार में थे वो सब अब कागज़ बन चुके है और जो नए नोट आये है वो काफी सिक्योर है जिनकी कॉपी करना आसन नहीं है |

नुकसान

इसके कुछ नुकसान भी है लेकिन ये नुकसान कुछ समय के लिए है और कुछ समय में लोगो की सारी  दिक्कते हल हो जाएगी |

  • सबसे बड़ा नुकसान हाल ही में रियल एस्टेट बिज़नेस को हो रहा है जो की नोट बैन होने की वजह से मंदा पड गया है |
  • छोटे मोटे व्यापारियों और मजदूरो का रोजाना का खर्चा मुश्किल हो गया है |
  • नोट बैन की वजह से टूरिस्ट को काफी दिक्कते हो रही है जिस से टूरिज्म सेक्टर भी मंदा पद रहा है |

कुल मिलाकर इस फैसले के हमारे देश को आने वाले समय में काफी फायदे है और हम सभी को इस अच्छे फैसले का सम्मान करते हुए प्रधानमंत्री जी का सहयोग करना चाहिए और किसी भी पोलिटिकल पार्टी के जालसे में नहीं आना चाहिए |

Make India Proud

 

 

Comments

comments

LEAVE A REPLY